समय की सीख

दो पल की खुशियाँ मिले तो उन्हे ख़ुद से दूर मत करो |
कोई अधूरे ख्वाब पूरे हो तो हर पल उनको जीते चलो |
हर लम्हा हर पल यूं ही गुजर जाएगा |
आने वाले कल पर तुम ज़िन्दगी जीना छोड़ दो
जो है वो आज है ज़िन्दगी की हर ख्वाहिश को पूरा कर लो |
हर पल सब साथ रहे हर मुश्किलों मे आपका साथ दे ये जरूरी नहीं |
अपने दिल की आवाज़ सुन तुम आगे बढ़ते रहो |
हर वक़्त एक जैसा नहीं होगा हर रात के बाद सवेरा होगा |
बस अपने कदमों को मुश्किल राहों में भी तुम आगे बढ़ाते रहो |
ज़िन्दगी जीनी है तो हर डर को दिल से निकालना होगा |
ख़ुद को परेशानियों के बोझ से तुम आज़ाद करते चलो |